थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही टाइगर पार्क में एंट्री

थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही टाइगर पार्क में एंट्री

भोपाल । ढाई महीने बाद प्रदेश के नेशनल टाइगर रिजर्व और अभ्यारण्यों में वाइल्ड लाइफ टूरिज्म की गतिविधियां गुरुवार से शुरू होने जा रही है। पर्यटकों की एंट्री के लिए एसओपी भी जारी की गई है। टाइगर रिजर्व और अभ्यारण्यों में प्रवेश से पहले गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। केवल स्वस्थ पर्यटकों की ही एंट्री की जाएगी। लॉक डाउन के कारण संरक्षित क्षेत्रों में पर्यटन गतिविधियां बंद पड़ी हुई थी। इससे स्थानीय लोगों में रोजगार की समस्या पैदा हो गई थी। इसे देखते हुए एक बार नेशनल पार्क और अभयारण्य खोले जा रहे हैं।

ट्रैवल  हिस्ट्री लेने के साथ वाहनों का होगा सैनेटाइजर

लॉज, रिसोर्ट और होटल प्रबंधन द्वारा पर्यटक की ट्रैवल  हिस्ट्री ली जाएगी। भ्रमण पर निकलने से पहले होटल प्रबंधन पर्यटक की थर्मल स्क्रीनिंग करेगा। स्वस्थ पर्यटकों को ही पर्यटन द्वार पर भेजा जाएगा। पर्यटन द्वार पर अनुज्ञा पत्रों की जांच का कार्य केवल मोबाइल एप अथवा देखने मात्र से किया जाएगा। पंजीकृत पर्यटन वाहनों में यदि एक ही परिवार के सदस्य हो तो 6 लोग बैठ सकेंगे। सिंगल परमिट के तहत एक वाहन में चार लोग ही बैठ सकेंगे। पर्यटक, गाइड एवं वाहन चालक को मास्क पहनना और सोशल डिस्टेसिंग अनिवार्य। वाहनों का अनिवार्य रूप से सैनेटाइजर किया जाएगा। पर्यटक में कोरोना से मिलते-जुलते लक्षण पाए जाने पर तत्काल स्वास्थ्य परीक्षण कराना होगा।

केवल 20 दिन चलेंगी गतिविधियां

राष्ट्रीय उद्यानों और अभयारण्यों में पर्यटन के लिए केवल 30 जून की गतिविधियां जारी रहती है। बारिश के कारण 30 सितंबर तक इन्हें बंद कर दिया जाता है। हालांकि बफर जोन में मानसून के दौरान भी पर्यटन गतिविधियां जारी रहेगी।

हम पर्यटकों के लिए तैयार

नेशनल टाइगर पार्क और अभयारण्यों में वाइल्ड लाइफ टूरिज एक्टिविटी गुरुवार से शुरू करने जा रहे हैं। पर्यटकों के लिए हमने पूरी तैयारी कर ली है। सरकार की एसओपी और सोशल डिस्टेसिंग का पूरा ध्यान रखा जाएगा। एसके मंडल, पीसीसीएफ (वाइल्ड लाइफ)