1 माह से बंद पड़े पंखे कूलर, भट्टी की तरह तप रहे वार्ड में उबल रहे मरीज

1 माह से बंद पड़े पंखे कूलर, भट्टी की तरह तप रहे वार्ड में उबल रहे मरीज

जबलपुर । विक्टोरिया अस्पताल का क्षय रोग विभाग कूलर और पंखे विहीन हो गया है। पिछले महीने लगे उपकरण खराब हो गए हैं। इसकी जानकारी चिकित्सकों को है लेकिन अभी तक पीडब्ल्यूडी के कर्मियों को खबर नहीं दी गई है। गौरतलब है कि पिछले महीने लोड बढ़ने से पुराने टीबी वार्ड में लगे पंखों के अलावा ट्यूबलाइट खराब हो गए थे। गर्मी के मौसम में हवा नहीं मिलने से मरीजों को उमस के कारण बेचैन होना पड़ रहा है। पेयजल भी नहीं मिल रहा विक्टोरिया में ऊपर स्थित वार्ड 4 व 5 के समक्ष लगे वॉटर फिल्टर भी बंद हैं और मरीजों को पानी लेने के लिए नीचे आना पड़ता है। एक मरीज ने बताया कि दो दिन से वार्ड में पानी नहीं मिल रहा है। मजबूरी में उन्हें घर से पानी मंगवाना पड़ रहा है। साल भर रहते हैं मरीज विक्टोरिया में टीबी और डीवीडी ऐसे वार्ड हैं जहां साल भर मरीज भर्ती रहते हैं। ऐसी स्थिति में बिजली, पानी, सफाई और उपचार आदि की व्यवस्था की जानी चाहिए लेकिन अधिकारियों की उदासीनता से वार्डों में समस्यायें बनी रहती हैं। ये बताया मरीजों ने वार्ड में भर्ती रीना रजक ने बताया कि पिछले 15 दिनों से टीबी वार्ड में लगे पंखे व अन्य बिजली उपकरण काम नहीं कर रहे हैं। गर्मी में मरीजों को पसीने से तर होना पड़ रहा है। यहां केवल नर्सिंग स्टाफ ही मरीजों की देखभाल करता है और वरिष्ठ डॉक्टर्स तो राउंड लेने के बाद दोबारा नहीं आते।

अन्य वार्डों में भी खराब हो रहे पंखे

चिकित्सालय के टीबी वार्ड के अलावा डीवीडी, बच्चा, गैंगरीन, पुरुष व महिला सर्जिकल वार्ड, अस्थि रोग विभाग में लगे पंखे व अन्य बिजली उपकरण बोल रहे हैं। ऐसे में टायलेट्स में अंधेरा होने से मरीजों के गिरने का डर बना रहता है।