मत्स्याखेट पर लगा प्रतिबंध हटाया जाए फिशर मैन ने प्रशासन को सौंपा ज्ञापन

 25 Jun 2020 12:12 AM  8

जबलपुर । मत्स्याखेट पर लगे प्रतिबंध हो हटाने कलेक्टर के नाम पर मछुआरों ने ज्ञापन सौंपा है। उनका कहना है कि वर्तमान में शासन ने मत्स्याखेट पर प्रतिबंध लगाया हुआ है जो कि नदी के संगम स्थलों पर प्रभावी है,बाकी तालाबों या पोखरों में मछली मारने की अनुमति दी जाए क्योंकि इससे हजारो ंपरिवारों क ी रोजी रोटी पर असर आ रहा है। मप्र फिशरमैन कांग्रेस के नेतृत्व में जिले के मछुआरों ने अपनी व्यथा प्रशासन को सुनाते हुए मत्स्याखेट की अनुमति मांगी है। उनका कहना है कि शहर व जिले के जलाशयों जहां पर नदी नहीं मिलती और मत्स्य ब्रीडिंग नहीं होती है ऐसे तालाबों में मछली पकड़ने में 15 जून से 15 अगस्त तक प्रतिबंध लगाया गया है। चूंकि कोरोना महामारी के चलते सभी मछुआरे का मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगाया गया था जिस कारण वे पूरी तरह से बेरोजगार थे। जैसे ही लॉक डाउन खुला तो 3 माह का फिर प्रतिबंध लगा दिया गया। इससे मछुआरों के परिवारों में भूखे मरने की नौबत आ गई है। ज्ञापन सौंपने में विमल रैकवार, विनय सोंधिया,राजेन्द्र जाट,मनीष कश्यप, पांडु कश्यप, ओमहरि कश्यप, आजाद सिंगरहा, स्नेह सिंगरहा आदि मौजूद रहे।