गडकरी बोले- राकेशसिंह को फिर से पारी संभालने दो

 20 Jan 2020 01:43 AM  1020

इंदौर आए केंद्रीय परिवहन मंत्री न पार्टी पदाधिकारियों से मिले न ही मीडिया से बातचीत की
मोदी सरकार के सबसे भरोसेमंद और खास मंत्रियों में शामिल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह को दोबारा इसी पद पर बनाए रखने के लिए रास्ता साफ कर दिया है। शनिवार को इंदौर आए केंद्रीय मंत्री  पहले आईआईएम के कार्यक्रम में शामिल हुए, उसके बाद वे सयाजी होटल में आयोजित एक शादी समारोह में पहुंचे। समारोह में भाग लेने से पहले करीब एक घंटे तक  गडकरी ने महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय और प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह से होटल के बंद कमरे में चर्चा की। 
भाजपा के कई पदाधिकारियों को इस बात की जानकारी नहीं थी कि परिवहन मंत्री गडकरी इंदौर आ रहे हैं। सुबह एयरपोर्ट पर प्रदेश अध्यक्ष, नगर अध्यक्ष समेत तीन अन्य नेताओं ने गडकरी की अगवानी की। इसके बाद गडकरी एयरपोर्ट से सीधे आईआईएम के कार्यक्रम में पहुंच गए। नगर अध्यक्ष गोपी नेमा ने बताया कि पार्टी के पदाधिकारियों से चर्चा करवाने के लिए गडकरी से समय मांगा गया था, लेकिन उन्होंने किसी से भी चर्चा करने से मना कर दिया। 
इसके बाद गडकरी उनके मित्र के यहां आयोजित शादी समारोह में हिस्सा लेने के लिए सीधे सयाजी होटल पहुंचे। शादी समारोह में हिस्सा लेने से पहले वे होटल के कमरे में पहुंचे। यहां पर महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय और प्रदेश अध्यक्ष राकेशसिंह समेत कई नेता मौजूद थे। थोड़ी ही देर बाद गडकरी ने दोनों को अपने कमरे में बुलाया। पौन घंटे की चर्चा के बाद तीनों शादी में शामिल हो गए। 
नगर अध्यक्ष गोपी नेमा ने बताया कि अपने इंदौर दौरे के दौरान गडकरी ने न तो भाजपा के पदाधिकारियों से चर्चा की और न ही मीडिया से चर्चा की। कैलाश विजयवर्गीय और राकेश सिंह के साथ हुई चर्चा में जो बातें निकलकर सामने आई हैं, उसके मुताबिक विजयवर्गीय ने जब प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव पर चर्चा की तो गडकरी ने साफ कहा कि राकेश सिंह को फिर से पारी संभालने दो। उन्होंने पहली पारी बहुत अच्छी खेली। पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष घोषित होने के बाद प्रदेश अध्यक्ष की औपरचारिक घोषणा कर दी जाएगी। वैसे भी भाजपा संगठन के पास अध्यक्ष पद के लिए किसी भी दावेदार का नाम नहीं आया है। राकेश सिंह का फिर से अध्यक्ष बनना तय है। गडकरी की सहमति के बाद अब जल्द ही उनके नाम पर मुहर लग जाएगी।