कोरोना काल में हर्ब्स बढ़ा रहे इम्युनिटी, गोल्डन मिल्क, त्रिकटु चूर्ण रूटीन में शामिल

 10 Jun 2020 12:42 AM  6

I AM BHOPAL ।  नेशनल हर्ब्स एंड स्पाइसेज डे( 10 जून) को मनाया जाता है। इन दिनों हर्ब्स का इस्तेमाल करके शहरवासी अपनी इम्युनिटी बढ़ाने पर फोकस कर रहे हैं। कोरोना से बचाव को लेकर लोगों ने अपने-अपने स्तर पर प्रयास शुरू कर दिए हैं। अब लोगों का फोकस अपने परिवार की इम्युनिटी को बूस्ट करके उन्हें कोरोना के खतरे से दूर रखना है। भोपाल में आयुष मंत्रालय के तहत आने वाले शासकीय पंडित खुशीलाल आयुर्वेदिक कॉलेज और होम्योपैथी कॉलेज अपनी-अपनी चिकित्सा प्रणाली के तहत दवाएं दे रहे हैं। लोगों तक यह इम्युनिटी बूस्टर दवाएं पहुंचाई जा रही हैं, ताकि लोग इनका सेवन कर अपनी इम्युनिटी को बढ़ाकर अंदर से मजबूती पा सकें। इसके अलावा योग और स्ट्रेचिंग को भी रूटीन में शामिल करने को कहा गया है। इन दिनों लोग त्रिकटु चूर्ण, गोल्डन मिल्क अपने रुटीन में शामिल कर रहे हैं।

 इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय की गाइडलाइन्स

कोरोना से बचाव के लिए इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय आयुष मंत्रालय द्वारा जारी किए गए हैं। आयुष मंत्रालय के मुताबिक ये उपाय आयुर्वेदिक साहित्य और वैज्ञानिक प्रकाशनों पर आधारित हैं, जिसे देश के जाने-माने डॉक्टर्स के परामर्श से तैयार किया गया है। गुनगुना पानी पीएं। हर दिन कम से कम 30 मिनट योग अभ्यास, प्राणायाम करने और ध्यान लगाने और भोजन पकाने के दौरान हल्दी, जीरा और धनिया जैसे मसालों का इस्तेमाल करने की सलाह दी है। सुबह 10 ग्राम यानी एक चम्मच च्यवनप्राश खाने (डायबिटीज रोगियों को बिना शुगर वाला) सेवन करें। दिन में एक या दो बार हर्बल चाय पीने या तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, सूखी अदरक और किशमिश का काढ़ा पीने और 150 मिलीलीटर गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी डालकर पीने को कहा गया है। सुबह और शाम दोनों नाक में तिल या नारियल का तेल या घी लगाने जैसे कुछ आसान आयुर्वेदिक उपाय भी सुझाए हैं। सूखी खांसी या गले में सूजन के लिए उसने दिन में एक बार पुदीने की ताजा पत्ती या अजवाइन के साथ भांप लेने की सलाह दी है ।

दो आसान स्टेप्स में सुबह के रूटीन को बनाएं बेहतर 

चाहे आप घर से कामकर रहे हों या प्रतिबंधों में छूट के कारण कार्यस्थल पर लौट रहे हों, सुबह का रूटीन ठीक होने से आपकी प्रोडक्टिविटी, फिजीकल और मेंटल हेल्थ पर प्रभाव डालता है। यह कहना है, लाइफस्टाइल एक्सपर्ट नमामि अग्रवाल का। वे बता रहीं हैं दो सरल उपाय ।

स्टेप:1

स्ट्रेचिंग को रूटीन में शामिल करें : अगर सुबह उठने पर आलस महसूस करते हैं तो दिनभर के बारे में सोचने से पहले अपने रूटीन में थोड़ा योगा और स्ट्रेचिंग शामिल करें ताकि दिन की शुरुआत आराम से हो। स्ट्रेचिंग अधिक लचीला बनने मदद कर सकती है।

 स्टेप:2

सार्थक पलों के लिए समय निकालें:गाइडेड मेडिटेशन को सुनें, प्रार्थना करें या मॉर्निंग वॉक (मूवमेन्ट मेडिटेशन)के लिए जाएं। खुदके लिए कुछ मिनट निकालें, ताकि आपके दिन की शुरुआत इस भावना से हो कि आपके सामने जो भी आए, आप उसके लिए तैयार हैं।

 शहर में त्रिकटु चूर F  वितरित कराया जा रहा है 

भोपाल में त्रिकटु चूर्ण जिला आयुष अधिकारी के माध्यम से वितरित किया जा रहा है। इस चूर्ण में पीपली, काली मिर्च और सौंठ है, जिसमें तुलसी के साथ उबालकर इसे पीया जाता है। यह चूर्ण इम्युनिटी बूस्ट करके लिए आयुष मंत्रालय द्वारा तैयार किया गया है। कॉलेज में इस बारेमें जानकारी लेने के लिए काफी कॉल्स आ रहे हैं। -डॉ. उमेश शुक्ला, पंडित खुशीलाल आयुर्वेदिक महाविद्यालय

होम्योपैथी में दे रहे इम्युनिटी बूस्टर

कोविड-19 का सेंटर हमारा हॉस्पिटल  है तो हम उसमें अपनी सेवाएं दे रहे हैं। खुद भी होम्योपैथी में विकसित की गई इम्युनिटी बूस्टर दवा ले रहे हैं। यह दवा नि:शुल्क है, जो कि कोई भी व्यक्ति इम्युनिटी बूस्टर के नाम से मांग सकता है। भोपाल में अभी तक 6.5 लाख लोगों को यह दवा दी गई है। - डॉ. सुनीता तोमर, सुप्रीटेंडेंट शासकीय होम्योपैथी हॉस्पिटल