बेचैन कर रही उमस बादल दे रहे लगातार धोखा

 25 Jun 2020 01:08 AM  2

जबलपुर । मानसून शहर से रूठा हुआ लगता है। आसपास के जिलों में तो अच्छी बारिश हो रही है मगर शहर व अंचल इससे महरूम हैं। वहीं भारी उमस ने लोगों को बेचैन कर रखा है। पसीने की धार के बीच लोग मानसून की राह देख रहे हैं। शुरूआती रिमझिम के बाद ऐसा लग रहा है कि मानसूनी बादल शहर से रूठ गए हैं। दक्षिण गुजरात एवं उसके आसपास चक्रवात सक्रिय है।इस वजह से अगले 24 से 48 घंटों में हल्की या मीडियम बारिश की उम्मीदें लगी हैं। वहीं वर्षा का सिलसिला थमने के बाद तापमान में फिर उछाल दर्ज किया गया है।

जिले में अब तक 75.5 मिमी औसत वर्षा दर्ज

जिले में एक जून से अब तक 75.5 मिलीमीटर औसत वर्षा रिकार्ड की गई है। अब तक सर्वाधिक बारिश का रिकार्ड 95.2 मिलीमीटर सिहोरा तहसील में दर्ज की गई है। जबकि पिछले साल इसी अवधि के दौरान मात्र 24.7 मिलीमीटर औसत वर्षा हुई थी। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक इस साल अब तक वर्षामापी केन्द्र जबलपुर में 70.1 मिलीमीटर, पनागर में 64.9 मिलीमीटर, कुण्डम में 86.4 मिलीमीटर और पाटन में 48.4 मिलीमीटर वर्षा रिकार्ड की गई। इसी प्रकार शहपुरा वर्षामापी केन्द्र में अब तक 68.9 मिलीमीटर, सिहोरा में 95.2 मिलीमीटर और मझौली में 94.3 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई।

ऐसा रहा बुधवार को मौसम का मिजाज

बुधवार को अधिकतम तापमान 35.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जो कि सामान्य रहा। न्यूनतम तापमान 25.7डिग्री रहा जो कि सामान्य से 1 डिग्री ज्यादा रहा। आर्द्रता 76 प्रतिशत रही। सूर्योदय सुबह 5.27व सूर्यास्त शाम 7बजे हुआ। हवाओं की दिशा दक्षिण-पश्चिमी 5 किमी प्रति घंटे रही।मौसम विभाग के पूर्वानुमान में संभाग के जिलों में वर्षा व गरज-चमक के साथ बौछारों की संभावना जताई गई है।