पराली नहीं जलाएंगे किसान तो हर एकड़ मिलेंगे ढाई हजार

पराली नहीं जलाएंगे किसान तो हर एकड़ मिलेंगे ढाई हजार

चंडीगढ़। पंजाब सरकार पर्यावरण संरक्षण को अमलीजामा पहनाते हुए धान के अवशेष न जलाने वाले किसानों को प्रति एकड़ 2500 रुपए मुआवजा देगी। कृषि विभाग के सचिव काहन सिंह पन्नू ने गुरुवार को बताया कि गैर-बासमती धान लगाने वाले पांच एकड़ के मालिक किसानों को पराली न जलाने के बदले 2500 रुपए प्रति एकड़ मुआवजा मिलेगा। उन्होंने बताया कि इस मुआवज़े का हकदार वह किसान होगा जिसके पास अपने, पत्नी और 18 साल से कम उम्र के बच्चों के नाम पर कुल पांच एकड़ तक ही जमीन है और इस जमीन या इसके किसी हिस्से में गÞैर- बासमती धान की खेती करता हो और खेत के किसी हिस्से में धान के अवशेष को आग न लगाई हो। पन्नू ने बताया कि इन शर्तों को पूरी करने वाले किसान की ओर से ग्राम पंचायत में उपलब्ध स्वघोषणा पत्र को 30 नवंबर भरकर देना होगा।