तीन सवारी मेें खर्चा नहीं निकल रहा किराया नहीं बढ़ाया तो हम खुद बढ़ा लेंगे

Auto and Magic

तीन सवारी मेें खर्चा नहीं निकल रहा किराया नहीं बढ़ाया तो हम खुद बढ़ा लेंगे

ग्वालियर।  टेंपो और मैजिक किराया बढ़ाने की मांग को लेकर शुक्रवार को संभागीय उप परिवहन आयुक्त के पास पहुंचे। चालकों ने कहा कि प्रशासन के आदेशानुसार वह तीन सवारी बैठा रहे हैं मगर डीजल व अन्य खर्चे नहीं निकल रहे हैं, इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग लागू रहने तक किराया दोगुना किया जाए। प्राइवेट ट्रांसपोर्ट मजदूर महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष नरेंद्र सिंह कुशवाह के नेतृत्व में टेंपो और टाटा मैजिक चालक सिरोल पहाड़ी स्थित परिवहन कार्यालय पहुंचे और ग्वालियर-चंबल संभाग के उप परिवहन आयुक्त एके सिंह से मिले और किराया बढ़ाने की मांग की। इस पर उप परिवहन आयुक्त ने किराया बढ़ाने की मांग का समर्थन करते हुए कहा कि वह इस मामले में आरटीओ एमपी सिंह से चर्चा करेंगे। नरेंद्र सिंह कुशवाह ने कहा कि अगर सौ फीसदी किराया उचित नहीं लगता है तो पचास फीसदी ही बढ़ा दिया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि अगर सोमवार तक किराया नहीं बढ़ाया जाता है तो वह खुद किराया बढ़ा लेंगे। टेंपो और मैजिक का किराया दोगुना करने की मांग को लेकर उप परिवहन आयुक्त से मुलाकात की और उन्हें बताया कि तीन सवारी से खर्चा नहीं निकल पा रहा है, इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग लागू रहने तक किराया बढ़ाया जाए। अगर सोमवार तक किराया नहीं बढ़ाया जाता है तो मंगलवार से हम खुद बढ़ा लेंगे।

 अभी कितना किराया है, बढ़ने पर कितना होगा?
 क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार ने टेंपो और मैजिक के लिए पहले 3 कि.मी. के 6 रुपए और इसके बाद प्रति कि.मी. 1.50 रुपए किराया तय किया है। किराया अगर सौ फीसदी बढ़ता है तो सवारियों से पहले तीन कि.मी. के 12 रुपए और इसके बाद प्रति कि.मी. 3 रुपए वसूले जाएंगे। पचास फीसदी किराया होने पर 9 और 2 रुपए किराया लिया जाएगा। आॅटो रिक्शा (पेट्रोल+सीएनजी) अभी 2 कि.मी. के 35 रुपए और इसके बाद प्रति कि.मी. 10 रुपए व डीजल आॅटो रिक्शा 30 और 8 रुपए किराया ले रही हैं। किराया दोगुना होने पर आॅटो रिक्शा चालक 2 कि.मी. के 70 रुपए और इसके बाद प्रति कि.मी. 00 रुपए व डीजल आॅटो रिक्शा 60 और 16 रुपए किराया लेंगे।