जीडीपी बढ़ाने के लिए एक्सपोर्ट पर ध्यान देना जरूरी

Economy

जीडीपी बढ़ाने के लिए एक्सपोर्ट पर ध्यान देना जरूरी

ग्वालियर। देश में रोजगार बढ़ाने और स्थायी तौर पर जीडीपी की वृद्धि करने के लिए हर देश को बेहतर एक्सपोर्ट टर्नओवर पर ध्यान देना होगा। इंटरनेशनल ट्रेड प्रोग्राम प्रतिभागियों की इंटरनेशनल ट्रेड एनवायरमेंट के प्रति नॉलेज बढ़ाने, भारत का एक्सपोर्ट इम्पोर्ट ट्रेड, प्रक्रिया और इससे सम्बंधित डॉक्यूमेंटेशन के लिए है। इसकी टर्म्स एंड कंडीशन व पॉलीसिज को विस्तार से समझना जरूरी है। आईटीएम यूनिवर्सिटी के स्कूल आॅफ मैनेजमेंट ने एमबीए स्टूडें्ट्स के लिए इंटरनेशनल ट्रेड सात दिवसीय वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इस वर्कशॉप का उद्देश्य एक्सपोर्ट और इम्पोर्ट के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करना था। इस वर्कशॉप को कापोर्रेटर ट्रेनर व सीए के. राजशेखरन ने उद्बोधित किया। इस दौरान पहले सेशन में उन्होंने भारत के एक्सपोर्ट इम्पोर्ट कम्पोजीशन, बैलेंस आॅफ ट्रेड के बारे में चर्चा की, दूसरे सेशन में एक्सपोर्ट ट्रेड के शुरूआती चरणों के बारे में बताया गया। जिसमें प्रोडक्शन डिटेल, पेमेंट डिस्क्रिबशन, शिपमेंट टर्म्स, इंस्पेक्शन और इंश्योरेंस की आवश्यकता, रिटर्न की लास्ट डेट और अन्य टर्म्स एंड कंडीशन शामिल होती हैं। आखिरी में फारेन ट्रेड पॉलिसी, एक्पोर्ट शिपमेंट जैसे पोस्ट फैक्टरिंग, ईसीजीसी स्कीम आदि और एक्सपोर्ट इंसेटिव जैसे ड्यूटी ड्रॉबैक, एमईआईएस, एसईआईएस, एडवांस आॅथराइजेशन स्कीम आदि पर था। सारे सेशन बहुत इंटरेक्टिव थे। स्टूडेंट्स ने भी सवाल पूछकर जिज्ञासाओं का समाधान किया।