कर्बला से गांधी नगर, अयोध्या होते हुए लांबाखेड़ा में पहुंचा झील का पानी

 24 Jun 2020 01:01 AM  11

भोपाल। मनुआभान टेकरी पर 15 करोड़ रुपए की लागत से बनाए गए वॉटर फिल्टर प्लांट की सोमवार को टेस्टिंग के बाद मंगलवार से पानी सप्लाई शुरू कर दी गई। इसके बाद गांधी नगर, करोंद, अयोध्या बायपास और लांबाखेड़ा समेत आसपास के इलाकों में पानी की किल्लत लगभग खत्म हो गई। क्योंकि इस प्लांट से 15 किलो मीटर क्षेत्र में करीब चार लाख आबादी को पानी सप्लाई किया जाएगा। बता दें कि अभी तक झील से रोजाना आठ लाख आबादी को पानी सप्लाई किया जाता है, लेकिन अब नया प्लांट शुरू होने से यह 12 लाख आबादी तक पहुंचेगा। नया फिल्टर प्लांट चालू होने के बाद बड़ी झील के फिल्टर प्लांटों की संख्या छह हो गई है। अहम बात यह है कि करीब 35 मीटर ऊंचाई पर मनुआभान टेकरी पर बनाए गए फिल्टर प्लांट से पानी फीडर लाइनों से ग्रेविटी की मदद से पहुंचेगा। इस प्लांट की क्षमता रोजाना 50 एमएलडी पानी सप्लाई की है। नगर निगम ने इसकी टेस्टिंग 22 जून को की थी।

कोलार प्लांट पर घटेगा दबाव

नगर निगम की जलकार्य शाखा अधिकारियों ने बताया कि कोलार फिल्टर प्लांट पर दबाव कम होगा। कोलार फिल्टर प्लांट की क्षमता 34 एमजीडी है और 38 एमजीडी तक पानी लिया जा रहा है। यहां प्लांट और डैम रॉ वॉटर पंप हाउस के 4-4 पंप 24 घंटे चलते हैं। डैम से प्लांट तक सात किमी दूरी से पानी पहाड़ी के पंप के जरिए प्रेशर से लाया जाता है। प्लांट से भोपाल तक 30 किमी तक 1500 एमएम व्यास की लाइन से पानी पहुंचाया जाता है।