दिनभर सूरज और बादलों के बीच चली लुका-छिपी शाम को हुई झमाझम

 16 Jun 2020 02:00 AM  4

जबलपुर । सुबह से बरसने का मूड बना रहे बादल अंतत: देर शाम बरसे। पहले 10 मिनट तो खासी तेज बारिश हुई इसके बाद धीमी गति से पानी गिरता रहा। हालाकि मौसम विभाग इसे अभी फुल मानसून नहीं मान रहा है मगर प्री मानसून व ट्रैक रेनफॉल कह रहा है। वहीं मौसम विभाग की ही जानकारी के मुताबिक मानसून नरसिंहपुर व सिवनी सहित शहडोल तक पहुंच चुका है जो कि अगले 48 घंटों में पूरे प्रदेश में सक्रिय हो जाएगा। सुबह से ही सूर्य बादलों के पीछे छिपा रहा। दिन भर बादलों का डेरा आसमान पर रहा। उमस से भी काफी राहत रही। हर कोई समझ गया था कि पानी गिरेगा। यह उम्मीद सही साबित हुई और शाम को पौने आठ बजे करीब 10 मिनट तेज बारिश हुई,इसके बाद गति धीमी हो गई,मगर बंद नहीं हुआ। बारिश के होते ही मौसम खुशनुमा हो गया।

यहां आ चुका मानसून

दक्षिणी पश्चिमी मानसून सोमवार को इंदौर होशंगाबाद जबलपुर संभाग के लगभग सभी भाग शहडोल एवं उज्जैन के कुछ हिस्से में प्रवेश कर गया है। आगामी 48 घंटों में पूर्वी मध्य प्रदेश के कुछ और हिस्सों में मानसून के आगे बढ़ने की पूरी पूरी संभावना है। मानसून की उत्तरी सीमा कांडला अहमदाबाद इंदौर नरसिंहपुर उमरिया एवं बलिया से होकर गुजर रही है भोपाल सहित मध्य प्रदेश के मौसम को प्रभावित करने वाले कारक पहला दक्षिण पूर्वी उत्तर प्रदेश एवं उससे लगे क्षेत्र में हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात से 7पॉइंट 6 किलोमीटर की ऊंचाई तक बना हुआ है जो दक्षिण पश्चिम दिशा की ओर ऊंचाई के साथ झुका हुआ है। पूर्वी पश्चिमी हवाओं का मिलन पश्चिम बंगाल के हिमालय की तराई एवं सिक्किम से उत्तरी कोकण के बीच बना हुआ है जो दक्षिण मध्य प्रदेश से होकर गुजर रही है जो 3.1 से 5.8 किलोमीटर की ऊंचाई पर बना हुआ है तीसरा एक द्रोणिका उत्तर पश्चिम राजस्थान से पश्चिम बंगाल के गंगा के क्षेत्र तक जा रही है जो उत्तरी राजस्थान उत्तरी मध्य प्रदेश एवं झारखंड से होकर गुजर रही है जो हवा के ऊपरी भाग में 900 मीटर की ऊंचाई तक बना हुआ है एक कम दबाव का क्षेत्र उत्तरी बंगाल की खाड़ी एवं उससे लगे क्षेत्र में 19 जून को बनने की संभावना है।

ऐसा रहा सोमवार को मौसम का मिजाज

सोमवार को अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जो कि सामान्य से 5 डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान 25.6 डिग्री रहा जो कि सामान्य रहा। आर्द्रता 84 प्रतिशत रही। सूर्योदय सुबह 5.25 व सूर्यास्त शाम6.58 बजे हुआ। हवाओं की दिशा दक्षिण- पूर्वी1 किमी प्रतिघंटे रही। पूर्वानुमान में संभाग के अनेक स्थानों पर वर्षा या गरज-चमक के साथ बौछारों की संभावना है।