बूंदा बांदी से आगे नहीं बढ़ पा रहा जिले में मानसून

बूंदा बांदी से आगे नहीं बढ़ पा रहा जिले में मानसून

जबलपुर । पूरे देश में मानसून आॅन सेट हो चुका है मगर शहर इससे अभी भी महरूम है। सुबह से बादल और घने होकर काले हुए जिससे लगा कि अब भारी बारिश शुरू होगी,मगर दिन भर मामूली बूंदाबांदी ही होती रही। वहीं पारा 7 डिग्री तक नीचे आ गया जिससे उमस से कुछ राहत लोगों को मिली। सुबह से ही घने काले बादलों से लोगों को भरपूर बारिश की उम्मीदें जाग गई थीं,हल्की बूंदाबांदी भी शुरू हो गई मगर इसने रμतार नहीं पकड़ी। कुछ ही देर में बादल कम होने लगे बाद में पता नहीं कहां चले गए।शाम तक हल्की रिमझिम जरूर होती रही। शहर में 7.3 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है। अब तक के सीजन में यह आंकड़ा 3 इंच तक पहुंचा है। 28 जून से तेज बारिश की संभावनाएं जताई जा रही हैं। जिले में सर्वाधिक बारिश सिहोरा में दर्ज की गई है।

ऐसी है मानसून की दिशा

दक्षिण-पश्चिम मानसून पूरे भारत में आनसेट हो चुका है। वर्तमान में मानसून टर्फ लाइन पंजाब,हरियाणा से उत्तर प्रदेश होते हुए पूर्वी बिहार तक विस्तृत है। मध्य पाकि स्तान के ऊपर समुद्र तल से 1.5 किमी की ऊंचाई पर,पश्चिमी उत्तर प्रदेश के ऊपर 0.9 किमी की ऊंचाई पर,पश्चिम मध्य अरब सागर के ऊपर1.5 किमी व 3.1 मिमी की ऊंचाई पर एक टर्फ लाइन तथा 10 डिग्री अक्षांश के ऊपर 2.1 किमी व 5.8 किमी की ऊंचाई के मध्य हवा का शिअर जोन दक्षिण की तरफ से झुकता हुआ विस्तृत है।

ऐसा रहा शुक्रवार को मौसम का मिजाज

शुक्रवार को अधिकतम तापमान 29.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जो कि सामान्य से 3 डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान 26.4 डिग्री रहा जो कि सामान्य से 1 डिग्री अधिक रहा। आर्द्रता 77 प्रतिशत रही। सूर्योदय सुबह 5.27 व सूर्यास्त शाम 7 बजे हुआ। हवाओ की दिशा दक्षिण- पश्चिमी 6 किमी प्रति घंटे रही। मौसम विभाग के पूर्वानुमान में संभाग के जिलों में अनेक स्थानों पर वर्षा या गरज-चमक के साथ बौछारों की संभावना जताई गई है।