किसानों की उपज की 24 करोड़ से ज्यादा राशि अटकी

 26 Jun 2020 12:51 AM  3

जबलपुर । जिले के 16 सौ किसानों का भुगतान रोका गया है, इन किसानों की उपज को अमानक बताकर 24 करोड़ से अधिक की राशि अटका दी गई है। जिससे किसानों में आक्रोश है। वहीं किसानों के खाते भी होल्ड किए गए है। जिसके विरोध में भारतीय किसान संघ मध्य प्रदेश के प्रदेश व्यापी ज्ञापन कार्यक्रम के तहत किसानों की विभिन्न समस्याओं के लिए मुख्य मंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया। भारतीय किसान संघ के द्वारा दिए गए ज्ञापन के बारे में जानकारी देते जिलाध्यक्ष मोहन तिवारी ने बताया कि प्रशासन से ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि जिन किसानों के धान व गेहूं के खाते होल्ड किए गए है, उन्हें तत्काल अनहोल्ड किया जाए। साथ ही चना, मसूर व सरसों का रोका गया भुगतान अविलंब किया जाए। प्रांत मंत्री प्रहलाद पटेल ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए जबलपुर डीएमओ विवेक तिवारी का स्थानांतरण जिले के अन्य जिले में करने की मांग रखी।

5 सौ रुपए प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि दी जाए

प्रदेश व्यापी जिला मुख्यालयों में किए जा रहे ज्ञापन कार्यक्रम के बारे में बताया कि प्रदेश भर में किसानों की प्रमुख मांगे जैसे, प्याज, लहसुन उत्पादक किसानों को 500 रूपए प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि दी जाए, मूंग, उड़द व मक्का की समर्थन मूल्य पर खरीदी की जाए, खरीफ फसलों के लिए खाद व बीज की पर्याप्त व्यवस्था की जाए, धान रोपाई हेतु नहरों में पानी छोड़ा जाए। इस अवसर पर किसान संघ के जिलाध्यक्ष मोहन तिवारी, प्रांत अध्यक्ष विजय गोंटिया, प्रदेश कोषाध्यक्ष ओमनारायण पचौरी, प्रांत प्रचार प्रमुख राघवेन्द्र सिंह पटेल, प्रांत मंत्री प्रहलाद पटेल आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।