7 हजार से ज्यादा लोगों ने छोड़ा घर, 21 जिले प्रभावित

7 हजार से ज्यादा लोगों ने छोड़ा घर, 21 जिले प्रभावित

गुवाहाटी। असम में भारी बारिश से आई बाढ़ से जनजीवन बेहाल है। बारिश और बाढ़ से यहां सात हजार से ज्यादा लोग अपने घर छोड़ने को मजबूर हो गए हैं। बाढ़ से राज्य के 33 जिलों में से 21 जिले गंभीर रूप से प्रभावित हैं। इस बाढ़ से राज्य के 8 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए है। अभी तक 6 लोगों की मौत की खबर है जबकि इस आंकड़े में इजाफा भी हो सकता है।

8 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित

असम आपदा प्रबंधन समिति की एक रिपोर्ट के मुताबिक 1,156 हजार गांव के 8 लाख से ज्यादा लोग इस साल बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। राज्य सरकार लगातार राहत- बचाव का कार्य कर रही है। राहत शिविरों में लोगों को भेजा जा रहा है। बाढ़ प्रभावित जगहों से लोगों को निकलने की अपील की जा रही है। जो लोग बाढ़ में फसें है, उनको वहां से निकाला जा रहा है। बचाव में एनटीआर एफ भी लगी है।

27,864 हेक्टेयर की फसल को भी नुकसान

बाढ़ से राज्य के 7,600 लोग अपना घर छोड़ने और राहत शिविरों में रहनों को मजबूर हुए हैं। यह सभी लोग 68 राहत शिविरों में रह रहे हैं। इस बाढ़ ने 27,864 हेक्टेयर की फसल को भी नुकसान पहुंचा है। इस बाढ़ से धेमाजी लखीमपुर, दरंड, बक्सा, बारपेटा, गोलपारा, मोरीगांव, नागांव, जोरहाट आदी राज्य प्रभावित हुए हैं। राज्य सरकार द्वारा बचाव अभियान चलाया जा रहा है।