स्वास्थ्य मंत्रालय की मप्र को सलाह, त्वरित जांच, घर-घर सर्वे और निगरानी की जरूरत

 09 Jun 2020 08:27 AM  6

नई दिल्ली ।  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना से सबसे ज्यादा संक्रमित 10 राज्यों के 38 जिलों के 45 नगर निकायों के अधिकारियों को संक्रमण और मृत्यु दर घटाने के लिए घर-घर सर्वेक्षण करने, त्वरित जांच और निगारी के लिए कहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन ने स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए उच्च स्तरीय बैठक की। इस बैठक में 45 नगर निगम क्षेत्र वाले कलेक्टर, निगम आयुक्त, जिला अस्पताल के अधीक्षक, मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य भी थे। मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना, तमिलनाडु, राजस्थान, हरियाणा, गुजरात, जम्मू कश्मीर, कर्नाटक और उत्तराखंड के 38 जिलों के प्रतिनिधि इस बैठक में शामिल हुए। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि लॉकडाउन में ढील और पाबंदी खत्म किए जाने के मद्देनजर राज्यों को आगामी महीनों के लिए जिलावार योजनाएं बनाने की सलाह दी गई थी। बैठक के दौरान शहरी क्षेत्रों के घनी आबादी वाले इलाकों में संक्रमण के प्रसार, साझा जन सुविधाएं वाले क्षेत्रों के मुद्दों, घर-घर जाकर सर्वेक्षण करने, त्वरित जांच, संक्रमण को क्षेत्र तक ही सीमित करने जैसे विषयों पर चर्चा हुई। मंत्रालय ने कहा-‘राज्यों के अधिकारियों को कंटेनमेंट क्षेत्रों, इसके पास के इलाके में उठाए जाने वाले कदमों और कोविड-19 को लेकर जागरूकता बढ़ाने की सलाह दी गई। इसके अलावा मृत्यु दर घटाने के भी उपाय बताए गए।