अब हम बेफिक्र होकर करते हैं मॉर्निंग वॉक और जॉगिंग

 23 Jun 2020 12:24 AM  4

ग्वालियर।  पहले हमें किले पर आने में डर लगता था, कि यहां मौजूद असामाजिक तत्व हमारे साथ कोई अप्रिय वारदात नहीं कर दें, लेकिन अब यहां पुलिस द्वारा की जा रही नियमित चेकिंग से इस तरह के लोग गायब हो गए हैं, जिससे हम बेफिक्र होकर मॉर्निंग वॉक और जॉगिंग करते हैं। यह कहना है किले पर सुबह घूमने जाने वाले शहरवासियों का, जिन्होंने इस पहल के लिए पुलिस का आभार जताया है। उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पूर्व तक हर रोज सुबह से ही किले पर स्टंटबाज तथा आवारा तत्वों का जमावड़ा लग जाया करता था, जिससे यहां मॉर्निंग वॉक वाली फैमिली व महिलाएं खुद को असुरक्षित महसूस करती थीं। जब एसपी नवनीत भसीन के संज्ञान में यह मामला आया, तो उन्होंने ट्रैफिक डीएसपी नरेश अन्नोटिया सहित स्थानीय ग्वालियर व बहोड़ापुर थाना प्रभारियों को किले पर रोज चेकिंग अभियान चलाने तथा यहां बाइक्स सहित अन्य वाहनों को प्रतिबंधित करने के निर्देश दिए। इसके बाद विगत आठ दिन से किले पर ट्रैफिक डीएसपी, बहोड़ापुर व ग्वालियर थाना स्टॉफ चेकिंग कर रहा है, इससे वाहनों के प्रवेश पर रोक लग गई है। हालांकि अभियान की शुरूआत में तो कुछ रईसजादों ने पुलिसकर्मियों से बहस भी की, लेकिन जब कप्तान के आदेश का हवाला दिया तो स्टंटबाजों ने किले से कन्नी काट ली, जिससे अब यहां फैमिली व महिलाएं बेफिक्र होकर आने लगी हैं। अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस पर जब पीपुल्स टीम किले पर योगा करने पहुंची, तो वहां मौजूद संभ्रांत परिवार के सदस्यों ने किले पर सुरक्षित माहौल मुहैया करवाने के हेतु की गई इस पहल के लिए एसपी सहित कार्रवाई में जुटे पुलिसकर्मियों के प्रति आभार प्रदर्शित किया। किले पर आने वाले लोगों को सुरक्षित माहौल मिल सके, इसलिए यहां नियमित रूप से चेकिंग अभियान चलाने व युवाओं को कोरोना से बचाव हेतु जागरूक किया जा रहा है।