यात्रियों को पता भी नहीं और हो जाती है थर्मल स्केनिंग

 22 Jun 2020 02:07 AM  4

भोपाल ।  दिल्ली रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट की तर्ज पर अब भोपाल स्टेशन पर भी ऑटोमेटिक थर्मल इमेज स्केनर कैमरे लगाए गए हैं। इनकी खास बात यह है कि अलग से किसी व्यक्ति का बॉडी टेंप्रेचर जांचने की जरूरत नहीं होती। जो भी व्यक्ति इन कैमरों के नीचे से गुजरता है, अगर उसे बुखार या उसके लक्षण हैं, तो ऑटोमेटिक ही पकड़ में आ जाता है। इस दौरान अलार्म बजने लगता है। भोपाल स्टेशन पर प्लेटफॉर्म-1 एवं 6 पर यह कैमरा लगाया गया है। ज्ञात होकि भोपाल स्टेशन से होकर इन दिनों 28 सवारी गाड़ियां गुजर रही हैं। इनमें यहां से रोजाना करीब छह हजार लोग यात्रा करते हैं।

सिर की थर्मल इमेज बनाता है

कैमरा यात्री के सिर की थर्मल इमेज बना कर तापमान के हिसाब से अलग-अलग रंग को डिस्प्ले करता है। गर्म को लाल और ठंडे को नीले रंग से दिखाता है। डीआरएम कार्यालय बिल्डिंग के मुख्य द्वारा पर यह कैमरा लगा है।

 यात्रियों का टेंप्रेचर जा जा रहा है

स्टेशन के दोनों प्लेटफॉर्म पर थर्मल कैमरों से यात्रियों की स्केनिंग, टेंप्रेचर जांचा जा रहा है। अभी कोई भी ऐसा मामला सामने नहीं आया, जिसको फीवर हो। - बी. रामा कृष्णा,आरपीएफ कमांडेंट