इंदौर के थानों में नहीं दिखेंगी प्लास्टिक बॉटल

इंदौर के थानों में नहीं दिखेंगी प्लास्टिक बॉटल

इंदौर | आम तौर पर पुलिस की सख्ती गुंडे बदमाशों पर देखी जाती है, लेकिन इस बार कहानी कुछ अलग है। अब शहर के पुलिसकर्मी प्लास्टिक उपयोग पर कठोर हैं। थानों में न प्लास्टिक की बॉटल लाई जाएगी न ही डिस्पोजल में चाय। यह पहल की है पश्चिम क्षेत्र के पुलिस अधीक्षक महेशचंद्र जैन ने।

उन्होंने अपने अधीनस्थों को निर्देश दिए हैं कि थानों में प्लास्टिक का उपयोग पूरी तरह बंद किया जाए। पहले चरण में पूर्व क्षेत्र के 18 थानों में यह प्रयोग किया जा रहा है। स्वच्छता में चौका लगाने की तैयारी कर रहे इंदौर में अमानक स्तर की पॉलीथिन बिक्री को कड़ाई से प्रतिबंधित किया। शहर में प्लास्टिक का कम से कम उपयोग हो इसके लिए सरकारी विभागों के दμतरों में भी प्रयास किए जा रहे हैं। थानों में गर्मी में पुलिसकर्मी प्लास्टिक की बॉटल में पानी लाते हैं, लेकिन अब ऐसा नहीं किया जाएगा। कुछ थानों के आसपास चाय डिस्पोजल कपों में आती है। स्वच्छता के मद्देनजर अब उसे भी प्रतिबंधित किया जा रहा है। जैन ने अपने अधीनस्थों कहा, वे डिस्पोजल में चाय पीने की बजाए चीनी के कप का उपयोग करें।

 मार्च से लागू होगी योजना

थानों को प्लास्टिक और डिस्पोजल फ्री करने का प्रयास किया जा रहा है। एक मार्च से इसका उपयोग पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। किसी थाने में डिस्पोजल में चाय पीने की शिकायत मिली तो संबंधित पर 100 रुपए अर्थदंड किया जाएगा। -महेशचन्द्र जैन, एसपी पश्चिम।

आदेश का करेंगे पालन

हम भी डिस्पोजल मुक्त के आदेश का पालन करेंगे। कोशिश रहेगी कि चीनी के कप न होने पर कागज निर्मित कप का उपयोग हो। - युसूफ कुरैशी, पुलिस अधीक्षक, पूर्व