प्रधानमंत्री मोदी ने शुरू की नई परंपरा, अमर जवान ज्योति के बजाय युद्ध स्मारक जाकर शहीदों को दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री मोदी ने शुरू की नई परंपरा, अमर जवान ज्योति के बजाय युद्ध स्मारक जाकर शहीदों को दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस गणतंत्र दिवस पर 48 साल पुरानी परंपरा तोड़ते हुए नई परंपरा का आगाज किया। वह युद्धवीरों की शहादत को सलाम करने इंडिया गेट स्थित अमर जवान ज्योति नहीं गए, बल्कि बगल में ही नए बने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। 1971 के भारत- पाक युद्ध के शहीदों की याद में अमर जवान ज्योति को इंडिया गेट पर 1972 में तैयार किया गया था। इस मौके पर देश के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत (चीफ आॅफ डिफेंस स्टाफ) के अलावा तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने मोदी की अगवानी की।