एमटीवी पर फीचर हुए रैपर्स,सोशल मीडिया पर वॉरियर्स को डेडिकेट करते रैप सॉन्ग कर रहे पेश

एमटीवी पर फीचर हुए रैपर्स,सोशल मीडिया पर वॉरियर्स को डेडिकेट करते रैप सॉन्ग कर रहे पेश

कोरोना काल में दुनिया पर नकारात्मकता का साया है। लोगों में निराशा देखी जा रही है, ऐसे में ऊर्जा का एक बेहतर जरिया म्यूजिक होता है। ऐसे में बड़े कलाकार हों या फिर छोटे कलाकार, कोरोना काल में भोपाल के बडिंग यंग रैपर्स लोगों को रैप म्यूजिक के जरिए मनोरंजन और जागरूक करने का काम कर रहे हैं। पिछले 100 दिनों में कई भाषाओं में कोरोना वायरस को लेकर गाने बनाए गए और वायरल भी हुए। चाहे वो इंग्लिश में हो या हिंदी में कोरोना से संबंधित रैप म्यूजिक की भरमार देखी गई। भोपाल के यंग आर्टिस्ट्स द्वारा बनाए 'रैप सॉन्ग' वायरल हो रहे हैं, जिसमें वो कोरोना वायरस को लेकर संदेश देते हैं। ऐसे ही शहर के चुनिंदा आर्टिस्ट्स से आईएम भोपाल ने बात कर जाना की अलग-अलग मुद्दों पर कैसे अपने रैप सॉन्ग्स तैयार किए। इसके अलावा समय के मुताबिक स्थितियां देखते हुए यह कलाकार अन्य गीत भी तैयार कर रहे हैं।

पुलिस कर्मियों के लिए शूट किया था रैप सॉन्ग

देसी स्टार हिपहॉप के मेंबर और रैपर वीरेंद्र शुक्ला ने बताया कि लॉकडाउन और कोरोना वायरस ने हम आर्टिस्ट्स को बहुत कुछ सिखाया है। जरुरी नहीं है की एक स्टेज के जरिए ही अपने हुनर को शो कर सके। मैंने और मेरी टीम मेंबर्स मोहम्मद इलियास खान, रोहित गुप्ता और अभिषेक मैथिल ने मिलकर 'हम पुलिस वाले' रैप सॉन्ग को सोशल मीडिया पर अपलोड किया। कोरोना पर 'कड़वा सच' नाम से एक रैप सॉन्ग तैयार कर रहे हैं जिसे जल्दी ही रिलीज करेंगे।

ओपन माइक नहीं तो सोशल मीडिया पर अपलोड किया

रैपिंग रॉकर्स ग्रुप के मेंबर रैपर हैरी मंडलेकर ने बताया कि हम तीन लोगों की टीम के मेंबर्स सनी एसके, प्रतीक घई ने 'नमस्ते कोरोना' नाम से एक रैप सॉन्ग तैयार किया था। यह गाना हमने एक ओपन माइक में गाने के लिए तैयार किया था, लेकिन जिस दिन इसे परफॉर्म करने वाले थे उस दिन जनता कर्यू लग गया। मेरी टीम ने सोचा अब हम लाइव परफॉर्म तो नहीं कर पाए तो क्यों न इसे सोशल मीडिया पर अपलोड किया जाए। जब अपलोड किया तो लोगों का रिस्पांस चौकाने वाला था। इस गाने को बहुत पसंद किया गया ।

इटली की आर्टिस्ट के साथ तैयार किया था गीत

सिटी के यंग रैपर और एपिक सेंसेशन से मशहूर पलाश झा ने बताया कि इस को मैंने बहुत फ्रइटफुल बनाया था। इस दौरान मैंने करीब 5 गाने लिखे और उन्हें कम्पोज किया। मैंने वीडियो के जरिए उन लोगों को मोटिवेट करने की कोशिश की जो घर में रहते हुए एक्सरसाइज नहीं कर रहे थे। एक गाना और तैयार किया था जिसे मैंने इटली की एक आर्टिस्ट के साथ कोलेब्रेट कर तैयार किया था जिसे इंटरनेशनल प्लेटफॉर्म्स पर पसंद किया।

एमटीवी चैनल के कॉम्पिटीशन मे रैप सॉन्ग

का मौका मिला सिटी की यंग रैपर सुरभि जैन ने बताया कि मैं कई साल से कविताएं लिख रही थीं। इस लॉकडाउन में एमटीवी चैनल ने एक कॉम्पिटीशन निकाला था और उसमें एक मिनट का रैप सॉन्ग गाकर सुनाना था। वहां एक सॉन्ग रैप किया और फिर मुझे फीचर होने का मौका मिला। इसके बाद न्यूज़ में काफी देखा था एक्टर सोनू सूद माइग्रेंट वर्कर्स को अपने घर भेज रहे थे। उनके लिए मैंने एक रैप सांग लिखा जिसे लेकर सोशल मीडिया पर पहली बार मुझे अच्छा रिस्पॉन्स मिला।