नई कॉलोनियों में सुविधाओं के आधार पर तय होंगे रेट

नई कॉलोनियों में सुविधाओं के आधार पर तय होंगे रेट

भोपाल। हर बार कलेक्टर गाइडलाइन में जोड़ी जाने वाली नई कॉलोनियों के रेट उसके आसपास की कॉलोनी के आधार पर ही तय किए जाते हैं, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। नई कॉलोनियां के रेट वहां विकसित सुविधाओं के आधार पर तय किया जाएंगे। यदि कॉलोनी वैल फर्नीश्ड है और सीसी सड़क बनी हैं। पीने के पानी से लेकर अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं, उन कॉलोनियों में रेट अधिक रखे जाएंगे। जहां सुविधाएं नाकाफी हैं वहां कलेक्टर गाइडलाइन रेट कम रखे जाएंगे। उप जिला मूल्यांकन समिति ने बुधवार को वर्ष 2020-21 की प्रस्तावित कलेक्टर गाइडलाइन को लेकर आयोजित बैठक में यह जानकारी दी । इसके लिए नगर निगम सहित अन्य निर्माण एजेंसियों से नई कॉलोनियों में विकसित सुविधाओं की जानकारी मांगी है। इन सुविधाओं में सड़क, पानी, बिजली सहित अन्य मूलभूत सुविधाएं शामिल हैं।

निगम तैयार कर रहा है नई कॉलोनियों की सूची

नगर निगम के अधिकारी नई कॉलोनियों के दाम तय करने के लिए सूची तैयार कर रहा है। यह प्रस्ताव उप जिला मूल्यांकन समिति की अगली बैठक में रखा जाएगा। इसके बाद निर्णय होगा कि किन कॉलोनियों में सुविधा के नाम पर कितने दाम बढ़ाए जाएंगे। यही नहीं इस सूची में ऐसी पुरानी कॉलोनियों को भी रखा गया है जहां पर नगर निगम ने विकास कार्य कराए हैं।

निगम तैयार कर रहा है नई कॉलोनियों की सूची

ऐसी कॉलोनी जो निगम को हस्तांतरित नहीं हुई है और वहां निगम ने कोई सड़क या नाली बनवा दी है ऐसी कॉलोनियों को भी चिन्हित किया जा रहा है, ताकि वहां पर भी जमीनों के रेट बढ़ाए जा सकें। सूत्रों की मानें तो बीडीए और हाउसिंग बोर्ड द्वारा जमीनों के दाम बढ़ाए जाने को लेकर आपत्ति दर्ज कराने के बाद अब सुविधाओं का हवाला देकर दाम बढ़ाने का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है।