आरपीएफ खाई मोहल्ला छोटी ओमती तथा बरगी क्षेत्र से मिले 11 नए संक्रमित 5 डिस्चार्ज

आरपीएफ खाई मोहल्ला छोटी ओमती तथा बरगी क्षेत्र से मिले 11 नए संक्रमित 5 डिस्चार्ज

जबलपुर ।आईसीएमआर तथा मेडिकल कॉलेज की वायरोेलॉजी लैब से शनिवार को 231 परीक्षण रिपोर्ट्स प्राप्त हुईं, इनमें 11 लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया। नए संक्रमित मरीज बरगी, खाई मोहल्ला तथा छोटी ओमती क्षेत्र के निवासी हैं। वहीं 5 लोगों को डिस्चार्ज भी किया गया। इस तरह अब तक 176 लोगों की स्वस्थ होने के बाद छुटटी की जा चुकी है। संक्रमितों का आंकड़ा 239 हो गया है। जानकारी के मुताबिक शनिवार को पहले 49, फिर 23, शाम को 111 तथा देर रात 48 परीक्षण रिपोटर्स प्राप्त हु। इनमें बरगी के समीप ग्राम डोंड़ा के 20 और 18 वर्ष के दो युवक पॉजिटिव पाए गए। दोनों ही 21 मई को पूना से अपने गांव पहुंचे थे तथा संस्थागत क्वारेंटीन थे। तीसरे पॉजिटिव रेल्वे स्टेशन बरगी के समीप रहने वाले 63 वर्षीय वृद्ध हैं, जो 27 मई को भिलाई से जबलपुर पहुंचे थे। चौथे पॉजिटिव भी बरगी निवासी ही हैं। 35 वर्षीय ये व्यक्ति भोपाल में वाणिज्यिक कर विभाग में कार्यरत हैं और 28 मई को भोपाल से अपने खेरमाई मंदिर बरगी के समीप स्थित घर पहुंचे थे। पांचवी पॉजिटिव मरीज 65 वर्षीय महिला हैं, जो हनुमानताल थानांतर्गत खाई मोहल्ला निवासी हैं। छटवें संक्रमित 45 वर्षीय पुरुष हं, जो छोटी ओमती सामुदायिक भवन के पास के रहने वाले हैं तथा गुरंदी में कबाड़ का काम करते हैं। सातवें पॉजिटिव मदार टेकरी निवासी 75 वर्षीय वृद्ध हैं। देर रात मिली रिपोर्ट्स में 3 आरपीएफ कर्मी तथा 29 वर्षीय एक श्रमिक पॉजिटिव पाया गया है। यह श्रमिक मुंबई से बनारस तक की यात्रा कर रहा था। अपने रिश्तेदार की पत्नी की ट्रेन में डिलेवरी होने के कारण 28 मई को जबलपुर स्टेशन पर उतर गया था। श्रमिक की पत्नी, 2 बच्चे तथा उसके रिश्तेदार, पत्नी, बेटी तथा नवजात एल्गिन तथा विक्टोरिया अस्पताल में रखे गए थे।

54 हो एक्टिव केस

239 संक्रमितों में से जहां 9 की मौत हो गई है, वहीं 176 को डिस्चार्ज किया जा चुका है। वर्तमान में 54 एक्टिव केस हैं। जिन्हें उपचार प्रदान किया जा रहा है। शनिवार को डिस्चार्ज होने वालों में 42 वर्षीय अतहर मंसूरी को मेडिकल कॉलेज के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल से तथा 15 वर्षीय सानिया खान, 45 वर्षीय आयशा खान, 30 वर्षीय फातिमा खान, 17 वर्षीय जीशान खान को सुख सागर कोविड केयर सेंटर से छुट्टी दी गई है। इन्हें नई गाइड लाइन के मुताबिक सुख सागर कोविड केयर सेंटर में रखा जा रहा है।