18 कलेक्टर दिव्यांगों के रिकॉर्ड दुरुस्त कराने में सुस्त , सिर्फ 2 जिले ही आगे

 27 Jun 2020 01:18 AM  4

भोपाल। प्रदेश के 81 हजार से अधिक दिव्यांगों की पेंशन खतरे में पड़ सकती है। केन्द्र सरकार ने भी स्पष्ट किया है कि स्पर्श पोर्टल पर हर हितग्राही का सत्यापित विकलांग प्रमाण पत्र अपलोड नहीं हुआ तो आगे उनकी पेंशन में संकट आ सकता है और योजनाओं का लाभ भी नहीं मिलेगा। बावजूद 18 कलेक्टर दिव्यांगों के भविष्य को लेकर गंभीर नहीं हैं। इन कलेक्टरों को चेतावनी दी गई है कि अगर सत्यापन की सुस्त चाल रही तो कार्य पूरा होने में 59 दिन लगेंगे।राज्य और केन्द्र सरकार मिलकर प्रदेश के 4 लाख 32 हजार से अधिक दिव्यांगों को विभिन्न योजनाओं में पेंशन उपलब्ध करा रही हैं। सामाजिक न्याय विभाग की जानकारी में लाया गया था कि 81 हजार से अधिक ऐसे दिव्यांग हैं जिन्हे पेंशन तो मिल रही है लेकिन उनका नाम स्पर्श पोर्टल पर दर्ज नहीं हैं। आयुक्त सामाजिक न्याय विभाग रेनू तिवारी ने सभी कलेक्टरों को फिर पत्र लिखा है।