निसर्ग का असर बदली छाई रही फुहारें चलीं पारा 32 पर

निसर्ग का असर बदली छाई रही फुहारें चलीं पारा 32 पर

जबलपुर । तूफान निसर्ग का आंशिक असर शहर में भी नजर आया। हालाकि यहां पर विशेष कोई असर तो नहीं हुआ मगर दिन भर बादल छाए रहे और बामुश्किल कुछ देर के लिए ही हल्की धूप दिखी। वहीं सुबह से रह-रहकर पानी की हल्की बूंदाबांदी होती रही। वहीं रात म  जरूर बारिश की गति कुछ तेज हुई और उमस से लोगों को राहत मिली। गौरतलब है कि तूफान निसर्ग ने देश के तटीय इलाकों में तबाही मचाई हुई है। इस अंदेसे से शहर में भी भय का माहौल बना हुआ है। जबलपुर में तेज बारिश की चेतावनी भी दी गई थी जो कि अभी तक तो नहीं हुई है,मगर आगे क्या हो यह कोई नहीं जानता। आसमान में सुबह से ही बादलों की आवाजाही बनी रही जिसके चलते सूर्य अपनी किरणों की तपिश धरती तक नहीं पहुंचा पाया। मौसम विदों का पूर्वानुमान है कि इस बार मानसून 15 जून तक आ सकता है। रात में जब हल्की बारिश हुई तो लोग इसका आनंद लेने निकल पड़े। उनका कहना था कि कई दिनों से उमस ने उबाल कर रख दिया है लिहाजा बारिश की ये हल्की बूंदे अच्छी लग रही हैं। हवाएं भी शीतल रहीं जिससे उमस से राहत मिली। लॉक डाउन भी अब ज्यादातर क्षेत्रों में अनलॉक हो चुका है लिहाजा बाहर निकलने पर किसी तरह की रोक भी नहीं है। इस दोहरी खुशी को लोग भुनाने से पीछे नहीं रहे।

ऐसा रहा बुधवार को मौसम का मिजाज

बुधवार को अधिकतम तापमान 32 डिग्री रहा। जो कि सामान्य से 9 डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान 26.5 डिग्री रहा जो कि सामान्य से 1 डिग्री कम रहा। आर्द्रता 60 प्रतिशत रही। सूर्योदय सुबह5.24 व शाम 6.54 बजे हुआ। विगत चौबीस घंटों में 4 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है। मौसम विदों के पूर्वानुमान के अनुसार संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ बारिश हो सकती है। हवाओं की दिशा दक्षिणी 8 किमी प्रति घंटे रही।