मायके आई नवविवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान

Suicide

मायके आई नवविवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान

ग्वालियर। माधौगंज थाना इलाके में स्थित अपने मायके आई एक विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव का पीएम करवाने के उपरांत मर्ग कायम कर मामले को विवेचना में ले लिया है। लक्कड़खाना में रहने वाले सतीश जाटव की 20 वर्षीय पुत्री काजल ने बीती रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुबह सुबह जब काफी देर तक वह कमरे से बाहर नहीं निकलने पर परिजनों ने खिड़की से झांककर देखा, तो वह फांसी पर झूलती नजर आई, जिससे घर में हड़कंप मच गया, तथा पुलिस को घटना की जानकारी दी गई। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने जांच उपरांत शव को पीएम के लिए पहुंचा दिया। मृतका के परिजनों ने बताया कि काजल का विवाह बीते नवंबर माह में ही गुदड़ी निवासी मुकुल मौर्य के साथ हुआ था। मुकुल दिल्ली में प्रायवेट जॉब करता है, शादी के बाद काजल भी उसके साथ दिल्ली में रह रही थी, जो दो दिन पहले ही मायके लौटी थी। परिजनों ने बताया कि शादी के बाद से ही काजल का उसके पति से विवाद होना शुरू हो गया था। दरअसल काजल का पति मुकुल दिन-रात सोशल मीडिया पर किसी अन्य युवती के साथ चैटिंग करने में लगा रहता था, जब काजल उसका विरोध करती, तो वह उससे विवाद किया करता था, यहां तक कि उसने उसे छोड़ने तक की धमकी दे डाली थी, जिससे वह बेहद तनाव में थी। माना जा रहा है कि उसने इसी वजह से आत्महत्या की है। फिलहाल पुलिस मर्ग कायम कर मामले की पड़ताल में जुट गई है। युवक फांसी पर झूला, मौत गोला का मंदिर थाना क्षेत्र के शिव कॉलोनी में रहने वाले श्रीराम जाटव के 35 वर्षीय पुत्र अशोक ने अज्ञात कारणों के चलते फांसी लगा ली, जिससे उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव का पीएम करवाने के उपरांत मर्ग कायम कर मामले को विवेचना में ले लिया है। बताया गया है कि मृतक के पड़ोसी द्वारा बीते रोज ही उस पर चेन चोरी करने का आरोप लगाया गया था, जिस कारण रात ढाई बजे के लगभग पुलिस अशोक को तलाशती हुई उसके घर पर पहुंची थी, लेकिन उसके माता-पिता ने यह कहकर पुलिस को लौटा दिया था, कि अभी अशोक सो रहा है, जो कमरे का गेट नहीं खोल रहा है, हम सुबह उसे लेकर थाने पहुंच जाएंगे। वहीं बुधवार सुबह अशोक के परिजनों द्वारा उसके द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने की सूचना पुलिस को दी गई, जिससे माना जा रहा है कि संभवत: रात में जब पुलिस पहुंची थी, तभी अशोक फांसी लगा चुका था। पुलिस ने शव का पीएम करवाने के उपरांत मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है, मृतक पर पड़ोसी द्वारा चेन चोरी का आरोप लगाया गया था, जिससे पुलिस रात में उसके घर भी पहुंची थी, लेकिन परिजनों ने लौटा दिया था। हमने शव का पीएम करवाकर मर्ग कायम कर लिया है।