चांद नहीं सूरज है ये : रिंग ऑफ फायर देखने दुनिया भर में जुटे लोग, कई जगह बादलों में छिपा सूय

 22 Jun 2020 03:07 AM  9

नई दिल्ली। सूर्य ग्रहण के दौरान रिंग आॅफ फायर के दीदार की चाहत रखने वाले कई प्रदेशों के लोगों को बादलों के कारण यह खगोलीय घटना स्पष्ट रूप से नजर नहीं आई। सूर्यग्रहण सुबह 10:19 बजे शुरू होकर दोपहर 1:58 बजे तक चला। ग्रहण दोपहर 12 बजकर एक मिनट पर अपने चरम पर था। इसे राजस्थान, हरियाणा और उत्तराखंड समेत देश के कुछ उत्तरी इलाकों में देखा जा सका। मप्र के भोपाल, इंदोर समेत देश के बाकी हिस्सों में सूर्यग्रहण आंशिक रूप से दिखा।

 दुनिया में यहां पूर्ण सूर्यग्रहण

कांगो

सूडान

इथियोपिया

यमन 

सऊदी अरब

ओमान 

पाकिस्तान

चीन

दिसंबर में फिर पूर्ण सूर्यग्रहण

 अगला पूर्ण सूर्यग्रहण दिसंबर 2020 में दक्षिण अमेरिका में देखा जा सकेगा। इसके बाद, 2022 में भी एक सूर्यग्रहण पड़ेगा, लेकिन भारत से इसे मुश्किल से ही देखा जा सकेगा।

उधर... चार राज्यों में भूकंप 

सूर्यग्रहण के बाद असम, मेघालय, मणिपुर, और मिजोरम में भूकंप के झटके, लगे। इनकी तीव्रता 5.1 मापी गई। भूकंप का केंद्र मिजोरम के आइजोल जिले में बताया जा रहा है। हालांकि किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है।