विवि का दावा- चला रहे आॅनलाइन क्लास, स्टूडेंट्स बोले-अपने स्तर पर कर रहे तैयारी

विवि का दावा- चला रहे आॅनलाइन क्लास, स्टूडेंट्स बोले-अपने स्तर पर कर रहे तैयारी

भोपाल। राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय द्वारा आॅनलाइन क्लास के दावे खोखले साबित हो रहे हैं। विवि के यूआईटी और यूटीडी के प्रोफेसरों का कहना है कि टाइम टेबल के अनुसार सभी टीचर ऑनलाइन क्लास ले रहे हैं। लेक्चर, नोट्स आदि अपलोड किए गए हैं। वहीं स्टूडेंट्स का कहना है कि लेक्चर और नोट्स नहीं पहुंच रहे हैं। राजभवन ने विश्वविद्यालयों को लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन इंटरैक्टिव क्लासेस, वीडियो और आडियो लेक्वर वेबसाइट पर अपलोड करने के आदेश दिए थे। आरजीपीवी के सवा सौ टीचिंग स्टाफ में से एक ने भी ऐसा नहीं किया। उन्होंने कॉपी कर 30 पीडीएफ वेबसाइट पर अपलोड कर दिए। अब राजभवन ने विवि से आठ बिंदुओं पर जवाब मांगा है।

आरजीपीवी के दावे और उसकी हकीकत

विवि प्रबंधन का कहना 1. विश्वविद्यालय के प्रोफेसरों के अनुसार, टाइम टेबल के अनुसार आॅनलाइन इंटरेक्टिव क्लासेस, वीडियो लेक्चर, आडियो लेक्चर और पीडीएफ लेक्चर जूम एप से अपलोड किए जा रहे हैं।

2. निजी इंजीनियरिंग कॉलेज अपने स्तर पर तीन से चार घंटे की ऑनलाइन इंटरेक्टिव क्लासेस संचालित कर रहे हैं।

स्टूडेंट्स बोले

1. विश्वविद्यालय द्वारा ऑनलाइन क्लास नहीं चल रही है और न ही वेबसाइट पर लेक्चर या नोट्स अपलोड किए जा रहे हैं। स्टूडेंट्स अपने स्तर पर प्रोफेसरों से संपर्क करते हैं, तो उन्हें अलग से नोट्स अपलोड किए जाते हैं।

2. यह सही है कि प्रायवेट कॉलेजों के प्रोफेसर अलग से नियमित ऑनलाइन इंटरेक्टिव क्लासेस ले रहे हैं।