पश्चिमी हवाओं ने मानसूनी बादलों को पीछे धकेला, समय लगेगा बारिश में

 28 Jun 2020 11:20 PM  3

ग्वालियर। रविवारको दिन भर पश्चिमी हवाएं चलीं, जिसके प्रभाव से मानसूनी बादलों ने भी अपना रास्ता बदल लिया है, जो इलाहाबाद, दिल्ली, लाहौर के रास्ते पाकिस्तान पहुंच रहे हैं तथा इन्हीं क्षेत्रों में झमाझम बारिश करा रहे हैं। अब जब पूर्वी हवाएं चलेंगी तब ही मानसूनी बादलों को रुख ग्वालियर-चंबल संभाग की ओर होगा, जिसके बाद ही यहां पर्याप्त बारिश होगी। रविवार को ग्वालियर में सुबह से शाम तक आसमान साफ रहने से तेज धूप निकली वहीं राजस्थान की ओर से आ रहीं गर्म हवाओं ने वातावरण में गर्मी बढ़ाने का कार्य किया, जिसके चलते शनिवार की तुलना में रविवार को अधिकतम व न्यूनतम तापमान में क्रमश: 5.9 व 1.1 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने से शहरवासी भी भीषण गर्मी से परेशान रहे, गर्मी का असर ऐसा था कि एक बार फिर से कूलर-पंखे हांफते नजर आए व बंद कमरों में उमस का माहौल रहा। दोपहर में 3.00 बजे के लगभग पारा अंतिम चरण में था, जो 40.8 डिग्री सेल्सियस के अंक पर पहुंच चुका है। इस दौरान धूप वाले स्थानों पर कुछ देर के लिए खड़े होने पर लोगों परेशानी महसूस हो रही थी। मौसम विभाग के अनुसार आगामी 24 घंटों के दौरान ग्वालियर-चंबल संभागों के जिलों में कहीं-कहं वर्षा या गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभालना है। मौसम विभाग ने रविवार को अधिकतम तापमान 40.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जो सामान्य से 2.5 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा व न्यूनतम तापमान 29.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ, जो सामान्य से 1.6 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा।